Advertisement

Responsive Advertisement

10 मूल्यवान विचार

  • Swami Vivekanand Ji
    Swami Vivekanand Ji


आराम हराम है।

उठो, जागो और आगे बढ़ो तब तक नहीं रुको जब तक कि लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाए।

छोटे लक्ष्यों को प्राप्त कर करके ही बड़े लक्ष्यों की प्राप्ति की जाती है।

अपनी असीमित क्षमता को पहचानो, आप सब कुछ कर सकते है, असंभव शब्द अपने दिमाग कि शब्दावली से निकाल दो।

जब तक विद्यार्थी जीवन है सीखना मत छोड़ो।

ज्ञान असीमित है इसे प्राप्त करके अहंम जिसमें आ गया समझो उसकी ज्ञान प्राप्ति निरर्थक हो गई।

ज्ञान एक ऐसी प्रक्रिया है जो बांटने से बढ़ती है जबकि पैसा बांटने से कम होता है।

स्वयं को इस लुभावनी दुनिया से बाहर निकालकर कुछ क्षण स्वयं के भीतर झांककर आत्म मंथन करना सीखो।

सपने वो नहीं जो नींद में आते है, सपने वो है जो आपको सोने नहीं देते।
APJ Abdul Kalam
Dr. APJ Abdul Kalam

मन में, नसो में अपने शरीर के हर अंग अंग में अपने लक्ष्य को इस प्रकार बसा लो कि उठते, जागते, सोते हर क्षण आपको अपने सपने की ही गूंज सुनाई दे। 

Post a Comment

0 Comments